रानू मंडल का खुलासा: आसान नहीं था रेलवे स्टेशन से गाने रिकॉडिंग तक का सफर

आज रानू मंडल को (Ranu Mondal) कौन नहीं जानता है आज वह किसी पहचान की मोहताज नहीं है, उनकी पहली फिल्म के गाने के रिकॉर्डिंग तक उनका सफर आसान नहीं था। आपकों बता दे कि रानू मंडल पहले पश्चिम बंगाल के राणाघाट रेलवे स्टेशन पर रहकर गाने गाती थी। इसके बाद एक छोटे से वीडियो ने रानू मंडल की किस्मत पूरी तरह से खोल कर रख दी, इस गाने ने रानू मंडल की किस्मत ऐसी चमकाई कि हर कोई उनकी मधुर आवाज का दीवाना हो गया। ऐसे में यह सवाल उठता है कि आखिर रानू मंडल के साथ ऐसा क्या हुआ कि उसकी रेलवे स्टेशन पर गाना गाकर अपना गुजारा करना पड़ रहा था।

इस बात का खुलासा खुद रानू मंडल ने एक इंटरव्यू के दौरान किया है, वहीं इसके अलावा भी उन्होंने अपनी निजी जिंदगी से जुड़े कई खुलासे किए। एक न्यूज ऐजंसी को दिए इंटरव्यू में रानू मंडल ने अपनी जीवन के बारे में बताया कि उनके जीवन की कहानी बहुत लंबी है। इस पर चाहे तो फिल्म भी बन सकती है। रानू मंडल ने बताया कि ‘मैं फुटपाथ पर पैदा नहीं हुई थी, अच्छे परिवार से है। वह आपने माता-पिता से महज 6 महीने की उम्र में ही अलग हो गई थी। इसके बाद उसकी दादी ने उसका पालन पोसन किया।

रानू ने बताया कि उसे गाने गाने का बहुत ही शौंक था, वह लता मंगेशकर के गाने सीखती थी। फिर उसकी शादी हो गई और वह पश्चिम बंगाल से मुंबई शिफ्ट हो गए। उसने बताया कि मेरे पति फिल्म अभिनेता फिरोज खान के घर में रसोइया था। कुछ दिन पहले खबर आई थी कि सलमान खान की ओर स रानू मंडल को 55 लाख का घर तोहफे में दिया है। हालांकि इस खबर की कोई पुष्टि नहीं हुई थी। सलमान खान ने 55 लाख का घर देने की सोशल ​मीडियां पर झूठी खबर फैलाई जा रही है।



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *