लॉकडाउन में सिर्फ 3 घंटे में शूट हुई अक्षय कुमार की शॉर्ट फिल्म रिलीज, समझाया अनलॉक के बाद कैसे जाना है काम पर

0

  • 20 मेंबर्स की मौजूदगी में लॉकडाउन में शूट हुई पहली शॉर्ट फिल्म, आर बाल्की हैं निर्देशक
  • 25 मई को कमालिस्तान स्टूडियो में शूटिंग सिर्फ तीन घंटे में पूरी कर ली गई थी

दैनिक भास्कर

Jun 02, 2020, 05:16 PM IST

मुंबई.

65 दिनों के लॉकडाउन के बाद देश में धीरे-धीरे अनलॉक होना शुरू हो गया है। सरकार भी सावधानियों के साथ लोगों को काम पर लौटने के लिए जागरूक करना शुरू कर चुकी है। अक्षय कुमार स्वच्छ भारत अभियान के ब्रांड एम्बेसडर हैं और इस काम के लिए सरकार ने उन्हें चुना है। अक्षय ने आर.बाल्की के निर्देशन में बनी एक शॉर्ट फिल्म में काम किया है जिसमें  सावधानियों के साथ काम पर लौटने का मैसेज दिया गया है। पीआईबी ने इसे अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर ट्वीट भी किया है।

क्या है शॉर्ट फिल्म में?

इस शॉर्ट फिल्म में गांव का सेट अप दिखाया गया है। अक्षय फिल्म में बबलू नाम के युवक की भूमिका में हैं जो मास्क पहने कहीं जाते दिखते हैं तभी गांव के मुखिया उनसे कहते हैं-लॉकडाउन खुलते ही घूमने निकल पड़े। महामारी फैली है कहां टहल रहे हो। तभी अक्षय कहते हैं वो टहलने नहीं बल्कि काम पर जा रहे हैं। इस पर मुखिया कहते हैं-डर नहीं लगता वायरस पकड़ लेगा।

अक्षय कहते हैं-पहले लगता था लेकिन फिर यह समझ आया कि अगर मैंने पूरी सावधानी बरती तो यह बीमारी होने की संभावना कम है। फिर बातों-बातों में क्या सावधानियां बरतनी हैं अक्षय बताते हुए कहते हैं: सबसे जरुरी है मास्क, फिर समय-समय पर हाथ धोते रहें। इसके साथ ही सबसे महत्वपूर्ण बात, दूसरों से कम से कम दो गज की दूरी बनाए रखें।

लॉकडाउन में शूट हुई पहली शॉर्ट फिल्म: इस शॉर्ट फिल्म के निर्देशक आर.बाल्की हैं। इसकी शूटिंग की परमिशन  22 और 23 मई के लिए थी, मगर शूटिंग फाइनली 25 मई को कमालिस्तान स्टूडियो में हुई। इस फिल्म को अनिल नायडू ने प्रोड्यूस किया है। पिछले दिनों दैनिकभास्कर से खास बातचीत में उन्होंने इसकी मेकिंग की जानकारी शेयर की थी। 

उन्होंने कहा था, ‘ सबसे पहले मंत्रालय ने अक्षय कुमार और आर बाल्की से इसके लिए संपर्क किया था। फिर इस शॉर्ट फिल्म की एक स्क्रिप्ट तैयार की गई जो डेढ़ पन्नों की थी।

उसके बाद हमने मंत्रालय से कहा कि हमें शूटिंग के लिए परमिशन चाहिए तो उन्होंने खुद मुंबई पुलिस कमिश्नर से इजाजत मांगी जो मिल भी गई। हम लोगों ने एहतियात के तौर पर 22 और 23 मई की तारीख पर शूटिंग के लिए इजाजत मांगी थी। आखिरककार शूटिंग 25 मई को हुई। यह शूटिंग हम लोगों ने महज ढाई से 3 घंटों में पूरी कर ली।

आमतौर पर जहां लॉकडाउन से पहले सेट पर 60 से 70 क्रू मेंबर्स हुआ करते थे वहीं हमने महज 20 क्रू मेंबर्स के साथ इसकी शूटिंग कर ली। अक्षय कुमार खुद ड्राइव कर सेट पर आए। सेट में सिर्फ मेकअप आर्टिस्ट था और कोई क्रू मेंबर नहीं।

इसी तरह सिनेमैटोग्राफर भी सिर्फ एक कैमरा असिस्टेंट के साथ आए। मैंने खुद बाल्की सर को सेट पर आने के लिए पिकअप किया था। बाल्की सर के साथ भी बहुत कम असिस्टेंट डायरेक्टर थे। पूरे शूट में कोई कॉस्टयूम चेंज नहीं था। अक्षय कुमार को एक दिन पहले हम लोगों ने कॉस्ट्यूम भिजवा दी थी। उसी कॉस्टयूम में वह सेट पर आ गए थे।