दो महीने से पहले ‘गंगूबाई काठियावाड़ी’, ‘राधे’ और ‘मैदान’ की शूटिंग नहीं होगी शूरू, सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए मेकर्स करेंगे और इंतजार

0

दैनिक भास्कर

Jun 03, 2020, 05:00 AM IST

मुंबई (अमित कर्ण).

महाराष्ट्र सरकार की तरफ से एक गाइडलाइन के साथ शूटिंग करने की इजाजत मिलने के बावजूद फिल्म प्रोड्यूसर्स सितम्बर-अक्टूबर से काम बहाल करेंगे। लॉकडाउन के चलते कई बड़े बजट की फिल्मों की शूटिंग बीच में ही रोक दी गई थी। हाल ही में भास्कर को जानकारी मिली है कि गाइडलाइन मिलने पर भी अभी कई मेकर्स ने शूटिंग शुरू करने का फैसला नहीं लिया है।

सितम्बर से पहले नहीं होगी ‘गंगूबाई काठियावाड़ी’ की शूटिंग

‘गंगूबाई’ से जुड़े लोगों का कहना है कि सरकार से इजाजत मिलने के बाद भी प्रोडक्शन की तरफ से ऐसा कोई कॉल एक्टर, डायरेक्टर, आर्ट डायरेक्टर या किसी और डिपार्टमेंट के लोगों को नहीं गया है। अभी सब अनिश्चित ही चल रहा है। टेक्निकल क्रू के भी लोग सब अपने अपने घर गए हुए हैं। ऐसे में बिना उनके शूटिंग कैसे शुरू होगी? गंगूबाई की शूटिंग सितम्बर बाद होने की संभावना इसलिए भी है, क्योंकि फिल्म में अजय देवगन भी हैं। उनकी मैदान फिल्म की भी शूटिंग बाकी है। लॉकडाउन से पहले सिर्फ आलिया भट्ट के हिस्से की शूटिंग हुई थी। अगले शेड्यूल के लिए अभी सब इंतजार करना मुनासिब समझ रहे हैं। वह इसलिए कि जून के मध्य के बाद से बारिश भी शुरू हो जाएगी। ऐसे में बारिश के बाद का समय विचारा जा रहा है।

‘राधे’ की शूटिंग शुरू करने के लिए मेकर्स करेंगे इंतजार

सलमान खान की ‘राधे’ के सॉन्ग सिक्वेंस बाकी हैं। कुल 4 से 5 दिनों की शूटिंग होनी है। सलमान खान के मैनेजर जॉर्डी पटेल के मुताबिक, ‘अभी फिलहाल कोई बात नहीं हुई है इसके बारे में। अगले महीने देखेंगे क्या सिचुएशन है और फिर विचार करेंगे। यह बात हम लोग मानते हैं कि जब तक वैक्सीन नहीं निकलता, तब तक बड़े स्टार शूटिंग के लिए सामने शायद ही आएं, क्योंकि उन पर बहुत बड़े दांव लगे होते हैं प्रोड्यूसर्स के। बहरहाल, हम लोग जब कभी शूटिंग शुरू करेंगे तो सेफ्टी का पूरा ख्याल रखा जाएगा। इनडोर शूटिंग की जाएगी तब। 

अगस्त सितम्बर से पहले नहीं शुरू होगी शूटिंग

प्रोड्यूसर रमेश तौरानी तीन चार फिल्मों की अनाउंसमेंट के साथ तैयार हैं, मगर वह भी इंतजार ही करने वाले हैं। उन्होंने दैनिक भास्कर से बातचीत में कहा, ‘डर का माहौल तो अभी भी है ही। हालांकि टेलीविजन के एक्टर, प्रोड्यूसर और चैनल शूटिंग रिज्यूम करने को लेकर काफी बेताबी दिखा रहे हैं। वह लोग पूरी सेफ्टी प्रिकॉशन की बातें कर रहे हैं, लेकिन फिल्म इंडस्ट्री और समय लेने वाली है। सारे एक्टर,डायरेक्टर,प्रोड्यूसर वेट एंड वॉच के मोड में है। मुझे नहीं लगता अगस्त सितम्बर से पहले कोई शूटिंग शुरू होने वाली है। उस वक्त अगर बरसात की भी सिचुएशन होती है तो स्टूडियो के अंदर इनडोर शूटिंग हो सकती है। यह तथ्य भी नहीं नकारा जा सकता है कि बड़े स्टार बिना वैक्सीन और मेडिसिन के बाहर निकलने वाले नहीं हैं। 

मौजूदा हालत को अपनाने में वक्त लगेगा

जयललिता पर बायोपिक थलाइवी बना रहे प्रोड्यूसर शैलेश सिंह का कहना है,’अभी तो फिलहाल हम लोग प्रोड्यूसर्स गिल्ड और बाकियों की गाइडलाइंस को समझने की कोशिश कर रहे हैं। हर किसी को डर और मौजूदा हालत को अपनाने में वक्त लगने वाला है। शूटिंग तो होगी, लेकिन धीमे धीमे। रहा सवाल बड़े स्टार्स के शूटिंग पर आने या न आने का तो उन पर मैं तो नहीं बोल सकता। यह बात भी है कि वैक्सीन तो अभी कम से कम 6 से 8 महीने तक आने नहीं वाले, लेकिन मुझे नहीं लगता कि हर कोई वैक्सीन का इंतजार कर रहा होगा। 

जो प्रोड्यूसर साहस दिखाएगा, बड़ा हो जाएगा

डायरेक्टर प्रीतीश नंदी हालांकि प्रोड्यूसर्स के सिर्फ सितारों पर डिपेंडेंसी को सही नहीं मानते। उनका कहना है कि लॉकडाउन के बाद इंडस्ट्री बड़े सितारों पर डिपेंडेंट नहीं रहेगी। यह ग्रेट राइटर्स और समर्थ डायरेक्टर के द्वारा संचालित होगी। जो प्रोड्यूसर साहस दिखाएंगे, वह बड़े हो जाएंगे। लेकिन हम सब की पहली प्राथमिकता सेफ्टी है। इसके लिए भले थोड़ा और इंतजार करना पड़े तो किया जाए, लेकिन हम सभी की सैलरी रुकी हुई हैं। हर किसी को रेंट देना है। नतीजतन सब लोग इंतजार कर रहे हैं। फिर भी सेफ्टी की थोड़ी सी भी आहट हमें मिलती है तो हम तुरंत काम शुरू करेंगे।